Notifications
×
Subscribe
Unsubscribe

अब Solar Power Plant से नहीं ले सकते पूरी बिजली, जानें सरकार का नया नियम

Solar Power Plant : उत्तराखंड सरकार ने सौर ऊर्जा (Solar Energy) की संभावनाओं के बीच राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री सौर स्वरोजगार योजना सहित तमाम योजनाएं शुरु की है लेकिन अब उनकी बिजली यूपीसीएल (UPCL) अच्छे दामों पर खरीदने को तैयार नहीं है। बुधवार को नियामक आयोग में हुई जनसुनवाई में यूपीसीएल (UPCL) के एमडी अनिल कुमार के आयोग के सामने दिए गए बयान से सही बात सामने आ रही है।

UPCL ने 100 मेगावाट वनीला सोलर प्लांट से किया समझौता

UPCL के एमडी अनिल कुमार ने कहा है कि वह पूरी बिजली सोलर प्लांट (Solar Plant) से नहीं ले सकते हैं। UPCL ने 100 मेगावाट वनीला सोलर प्लांट (Vanilla Solar Plant) से समझौता किया है। जिससे 2. 44 रूपये प्रति यूनिट बिजली खरीदी जा रही है। इसी प्रकार 100 मेगावाट के आईटीसी पावर प्लांट (ITC Power Plant) से समझौता किया है। जिससे 2. 90 रुपये प्रति यूनिट के हिसाब से सौदा तय है।

3 रुपये के रेट पर मिलती है बिजली

UPCL एमडी ने कहा कि सोलर की बिजली सस्ती जरूर होती है लेकिन हम उसे पूरी नहीं खरीद सकते हैं। क्योंकि यह बिजली दिन में छह से सात घंटे ही मिल सकती है। जिस दौरान यह बिजली उपलब्ध होती है। इस दौरान बिजली की फ्रिक्वेंसी तेज होने की वजह से ग्रिड से भी 2. 50 से तीन रुपये के रेट पर ही बिजली मिलती है। उन्होंने कहा कि सोलर की बिजली से ग्रिड नहीं चला सकते हैं। शाम को सोलर प्लांट से बिजली नहीं बनती ऐसे उन्हें बाहर से ही बिजली खरीदनी पड़ जाती है।

UPCL की ग्रिड तक बिजली भेजने का सपना भी कहीं न कहीं अधूरा ख्वाब ही नजर आ रहा है। सवाल यह भी उठ रहा है कि जब सोलर पावर प्लांट (Solar Power Plant) से स्वरोजगार इतना मजबूत होने की उम्मीदें कम हैं। तो भला सरकार ही इस योजना को जोर शोर से क्यों चला रही है। एक सवाल यह भी उठ रहा है कि जब राज्य सरकार ने सोलर पावर प्लांट (Solar Power Plant) की योजना तो उस वक्त यह तकनीकी पहलू क्यों नजरअंदाज किया गया।

close button