Sukanya Samriddhi Account New Interest Rate 2021 जारी, देखें अब कितना मिलेगा ब्याज

Sukanya Samriddhi Account New Interest Rate : भारत सरकार ने ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ अभियान के तहत साल 2015 में  SSY Yojana शुरू की थी। यह योजना विशेष रूप से बालिकाओं के उज्जवल भविष्य के लिए शुरू कि गयी है। यह योजना बालिकाओं के माता -पिता को किसी भी अधिकृत वाणिज्यिक बैंक या भारतीय डाकघर में अपनी बालिका के लिए सुकन्या समृद्धि खाता ( Sukanya Samriddhi Account ) खोलने की अनुमति देती है।

Sukanya Samriddhi Account New Interest Rate 

हाल में, सुकन्या समृद्धि योजना ( SSY Yojana ) की ब्याज दर सालाना 7.6% है। Sukanya Samriddhi खाता 10 साल से कम उम्र की बालिका के माता-पिता द्वारा खोला जा सकता है। इस योजना की अवधि 21 वर्ष की है, जब तक कि 18 वर्ष की आयु के बाद लड़की की शादी या पढाई पूरी नहीं हो जाती।

सुकन्या समृद्धि योजना लाभ

सुकन्या समृद्धि योजना ( SSY ) का प्रमुख लाभ यह है कि यह अन्य बचत योजनाओं की तुलना में अधिक ब्याज प्रदान करता है। इस प्रकार, सुकन्या समृद्धि खाता खोलकर आप निश्चित रूप से अपनी बालिकाओं का भविष्य सुनिश्चित कर सकते हैं जो भविष्य में उसकी वित्तीय आवश्यकताओं को पूरा कर सकता है।

वित्तीय वर्ष 2021 के लिए सुकन्या समृद्धि योजना ब्याज दर 7.6% वार्षिक है। भारत सरकार योजना की ब्याज दर तय करती है और तिमाही आधार पर संशोधित की जाती है। SSY में न्यूनतम 250 रुपये से निवेश शुरू किया जा सकता है और एक वित्तीय वर्ष में अधिकतम 1.5 लाख रुपये तक निवेश कर सकते है।

आइए नजर डालते हैं सुकन्या समृद्धि खातें ( Sukanya Samriddhi Account ) की पिछली ब्याज दरों पर –

सुकन्या समृद्धि योजना खाता – पात्रता मानदंड

सुकन्या समृद्धि योजना खाता खोलने के लिए पात्रता मानदंड यहां दिए गए हैं।

  1. केवल बालिका के माता-पिता और कानूनी अभिभावक को ही बालिका के नाम पर सुकन्या समृद्धि खाता खोलने की इज़्ज़ाज़त है ।
  2. सुकन्या समृद्धि खाता खोलते समय बालिका की आयु 10 वर्ष से कम होनी चाहिए।
  3. सुकन्या समृद्धि खाते की परिपक्वता अवधि  21 वर्ष होती है
  4. एक बालिका के नाम पर केवल एक ही खाता खोला जा सकता है।
  5. एक परिवार अधिकतम दो SSY खाते खोल सकता है।

खाता खोलने की सरल और परेशानी मुक्त प्रक्रिया

बालिका के माता-पिता न्यूनतम 250 रुपये जमा करके सुकन्या समृद्धि योजना ( SSY Yojana ) खाता खोल सकते हैं और इस SSA खातें में एक वित्तीय वर्ष में अधिकतम 1.5 लाख रुपये तक का निवेश कर सकते हैं। अब योजना में न्यूनतम योगदान सीमा को संशोधित कर 250 रुपये कर दिया गया है, जो पहले 1000 रुपये था। आप सुकन्या समृद्धि खातें ( Sukanya Samriddhi Account ) में न्यूनतम 250 रुपये से योगदान देना शुरू कर सकते हैं और एक वित्तीय वर्ष में अधिकतम 1.5 लाख रुपये तक का निवेश कर सकते हैं।

बालिकाओं के लिए वित्तीय कोष बनाने में मदद करता है

पोस्ट ऑफिस की सुकन्या समृद्धि योजना ( SSY Yojana ) बालिकाओं के माता-पिता को शुरुआत से ही अपने बच्चे के लिए आर्थिक रूप से सुरक्षित भविष्य बनाने का अवसर देती है। इसके अलावा, यह बालिकाओं की उच्च शिक्षा के लिए भी सरकार द्वारा एक अच्छा प्रयास है । सुकन्या समृद्धि खाता ( Sukanya Samriddhi Account ) योजना के तहत, अभिभावक या माता-पिता लड़कियों की 18 वर्ष की आयु के बाद बालिकाओं की उच्च शिक्षा की जरूरतों को पूरा करने के लिए  निवेश राशि का 50% निकाल सकते हैं।

समयपूर्व निकासी नियम

जब बालिका 18 वर्ष की आयु तक पहुँचती है, तो  सुकन्या समृद्धि योजना ( SSY Yojana ) का खाताधारक समय से पहले निकासी कर सकता है। इसके अलावा, माता-पिता की अनिश्चित मृत्यु के मामले में या यदि कोई चिकित्सा आपात स्थिति होती है, तो योजना की शुरुआत की तारीख से 5 साल पूरे होने के बाद समय से पहले निकासी की जा सकती है। बालिकाओं के लिए यह सुकन्या समृद्धि खाता ( Sukanya Samriddhi Account ) बहुत लाभ-दायक है।

लेटेस्ट न्यूज़ जानने के लिए sarkariiyojana को बुकमार्क करें।