Notifications
×
Subscribe
Unsubscribe

Sukanya Samriddhi Yojana : क्या सुकन्या समृद्धि योजना में इस बार हुआ ब्याज दरों में कोई बदलाव?, ज़ल्द जानें

Sukanya Samriddhi Yojana : अगर आपने सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) में निवेश किया है तो आपको बड़ा झटका लग सकता है। केंद्र सरकार ने जुलाई सितम्बर तिमाही के लिए सार्वजनिक भविष्य निधि (PPF) और राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र जैसी छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है। आपको बता दें कि यह लगातार 9 वीं तिमाही है जब सरकार ने ब्याज दर नहीं बढ़ाई है।

Sukanya Samriddhi Yojana पर सरकार ने लिया बड़ा फैसला

केंद्र सरकार ने जुलाई – सितम्बर तिमाही पर ब्याज दर में कोई बदलाव नहीं किया है। सरकार के इस फैसले के बाद पब्लिक प्रोविडेंट फण्ड (PPF), सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम (SCSS), नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट (NSC), किसान विकास पत्र (KVP) और सुकन्या समृद्धि योजना समेत अन्य पोस्ट ऑफिस की सेविंग स्कीम की ब्याज दर पहले जैसी ही रहेगी। हालांकि लोगों को इस बार यह उम्मीद थी कि शायद सरकार इस बार इन स्कीम्स की ब्याज दर को बढ़ा दें।

Sukanya Samriddhi Yojana क्या है ?

सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) एक ऐसी लंबी अवधि की स्कीम है जिसमें निवेश करके आप अपनी बेटी की पढ़ाई और भविष्य के लिए निश्चित हो सकते हैं। इसके लिए आपको बहुत ज्यादा रकम की भी आवश्यकता नहीं होती है। इस योजना में कई बड़े बदलाव हो रहे हैं। सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) में नए नियमों के तहत खाते में गलत ब्याज डालने पर उसे वापस पलटने के प्रावधान को हटाया गया है।

Sukanya Samriddhi Yojana में अब कितना मिलेगा ब्याज ?

सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) में 7.60 % का ब्याज मिलता है। वहीं नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट (NSC) पर 6.8 % का ब्याज मिलेगा। पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) पर 7.1 % का ब्याज मिलता रहेगा। किसान विकास पत्र पर 6.9 % का ब्याज दिया जाएगा। और वहीं वरिष्ठ नागरिकों को 7.4 % का ब्याज मिलेगा।

मार्च 2021 में ब्याज दरों में कमी की गई। पीपीएफ दर में 6.4%, वरिष्ठ नागरिक बचत योजना में 6.5% और सुकन्या योजना में 6.7% की कटौती की गई। इसको लेकर काफी भारी हंगामा हुआ जिससे सरकार को कटौती वापस लेने के लिए मजबूर होना पड़ा। तब से छोटी बचत दरें अछूती रही हैं। अब जबकि सरकारी बॉन्ड यील्ड काफी बढ़ गई है, सरकार छोटी बचत दरों में बढ़ोतरी कर सकती है। यह बढ़ोतरी गोपीनाथ समिति के फार्मूले के अनुसार होगी या नहीं यह देखना बाकी है।

Sukanya Samriddhi Yojana में 2020 से नहीं हुआ बदलाव

आपको बता दें कि सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) में साल 2020 – 21 की पहली तिमाही के बाद से छोटी बचत योजनाओं के ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं हुआ। इससे पहले वित्त मंत्रालय ने एक अधिसूचना में कहा है कि वित्तीय वर्ष 2022 -23 की पहली तिमाही के लिए कई छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दर 1 अप्रैल 2022 से शुरू होकर 30 जून 2022 को समाप्त होने वाली चौथी तिमाही के लिए लागू वर्तमान दरों से अपरिवर्तित रहेगी। आपको बता दें कि छोटी बचत योजनाओं के लिए ब्याज दरें तिमाही के आधार पर संशोधित की जाती है।

Sukanya Samriddhi Yojana Click Here
Home Page Click Here
close button