UP BC Sakhi Yojana Result 2022: इनको मिलेंगे 6000 रूपये हर महीने , जल्दी करें आवेदन

UP BC Sakhi Yojana Result 2022: इस योजना की शुरुआत उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा की गई है।यह योजना कोविड-19 के तहत शुरू की गई है।उत्तर प्रदेश बीसी सखी योजना 22 मई 2020 को लागू हुई।इस योजना का आवश्यक लक्ष्य उत्तर प्रदेश की लड़कियों को लाभान्वित करना है।

UP Jal Sakhi Yojana 2022 : महिलाओं को मिल रहा रोजगार साथ ही 6000 रूपये हर महीने, ऐसे लें लाभ

उत्तर प्रदेश बैंकिंग सखी योजना

उत्तर प्रदेश बैंकिंग सखी योजना के तहत लड़कियों को रोजगार देने के साथ-साथ उत्तर प्रदेश के बैंकिंग संवाददाता गांव के भीतर प्रत्येक परिवार को बैंकिंग केंद्र उपलब्ध कराएंगे।इसके लिए लाभार्थी महिलाओं को हर माह चार हजार रुपये दिए जाएंगे।यूपी सरकार यूपी बीसी सखी योजना 2020 में 58,000 लड़कियों को रोजगार देगी।कोई भी लड़की जो इस योजना का पालन करेगी, उसे भी डिवाइस के शुल्क और खरीद के लिए 50,000 रुपये दिए जा सकते हैं।

उम्मीदवारों को यह कहने की आवश्यकता है कि सर्वश्रेष्ठ महिलाएं इस योजना का लाभ उठा सकती हैं, लोग अब आवेदन करने के पात्र नहीं होंगे।सखी योजना के तहत ग्रामीण वर्ग की सर्वश्रेष्ठ महिलाएं आवेदन करने की पात्र हो सकती हैं।और महिलाएं उसी ग्राम पंचायत की नागरिक होनी चाहिए जिसके लिए वे आवेदन करती हैं।

[igrsup.gov.in*] IGRS UP Registration| Stamp and Registration Department UP

UP BC sakhi Yojana

UP BC sakhi yojana 2022

उत्तर प्रदेश बीसी सखी योजना के तहत, सीएम योगी ने 35,938 स्वयं सहायता व्यवसायों को 218.49 करोड़ रुपये का रिवॉल्विंग फंड भी दिया है।स्व-सहायता व्यवसाय में सिलाई-कढ़ाई और पत्ती मसाला करने वाली महिलाएं भी इस फंड से लाभ उठा सकती हैं।इस योजना पर सभी लेनदेन वर्चुअल माध्यम से किए जा सकते हैं।यूपी बीसी सखी योजना 2022 में जो भी नियुक्त हो सकते हैं, उनकी गतिविधि बैंकिंग केंद्रों को घर-घर ले जाने की हो सकती है।

UPSC NDA & CDS 2 Official Answer Key 2022 Check Answer Key Date @upsconline.nic.in

इस योजना के लिए यूपी सरकार के माध्यम से 430 करोड़ रुपये का बजट रखा गया है।इस योजना के लिए, लड़कियों के लिए आवेदन के लिए कुछ निर्धारित पात्रता होना भी महत्वपूर्ण है, यदि आप इनमें से अधिकांश पात्रता को पूरा करते हैं तो लड़कियां सखी योजना का लाभ उठा सकती हैं।

इस योजना का पालन करने के लिए, यूपी सरकार ने एक मोबाइल ऐप जारी किया है, आपको ऐप के माध्यम से ही देखना होगा।आज हम आपके साथ इस योजना से जुड़े सभी रिकॉर्ड और उत्तर प्रदेश बीसी सखी योजना में ऑनलाइन कैसे देख सकते हैं, इसका अनुपात बता सकते हैं।जानना बंद होने तक आइटम पढ़ें।

UP BC सखी योजना पंजीकरण(Registration)

उत्तर प्रदेश सरकार ने एक बार फिर यूपी बीसी सखी के लिए आवेदन की तारीख बढ़ा दी है, साथ ही बीसी सखी के लिए चयन प्रणाली शुरू करने के आदेश दिए हैं।उत्तर प्रदेश ग्रामीण आजीविका मिशन के माध्यम से चयन प्रणाली को पूरा किया जा सकता है। बीसी सखी के लिए, पहले स्वयं सहायता समूह का हिस्सा बनने वाली महिलाओं को वरीयता दी जा सकती है।चुनाव प्रणाली के बारे में अधिक जानकारी के लिए नीचे दिया गया वीडियो देखें।

UP BC सखी 58000 पद पात्र

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन अंतर्गत ग्रामीण विकास विभाग के अंतर्गत रिक्त बैंकिंग पत्राचार सखी पदों पर भर्ती हेतु आवेदन मांगे हैं, यूपी बीसी सखी भर्ती 2020 के लिए ग्यारह जून 2020 से ग्यारह जुलाई 2020 तक,इनके लिए ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है 58000 पद पात्र आवेदक यूपी बीसीएसखी ऐप के माध्यम से निर्धारित ले आउट में देख सकते हैं।उपयोग कैसे करें पात्रता मानदंड नीचे दिए गए हैं।

PM Kusum Yojana

यूपी बीसी सखी योजना के लिए उपयोग करने के लिए आवश्यक पात्रता

  • जो महिलाएं इस योजना में आवेदन करना चाहती हैं,उनका उपयोग करने की पात्रता लोगो के पास होनी चाहिए।
  • उम्मीदवार महिला उत्तर प्रदेश की स्थानीय होनी चाहिए।
  • महिला आवेदक दसवीं पास होनी चाहिए।
  • महिलाएं बैंकिंग सेवाओं को पहचान सकती हैं।
  • उम्मीदवार महिलाओं को नकद लेनदेन करने में सक्षम होना चाहिए
  • लड़की को डिजिटल डिवाइस चलाने की जानकारी होनी चाहिए।
  • उत्तर प्रदेश सखी योजना के तहत ऐसी महिलाओं को नियुक्त किया जा सकता है जो बैंकिंग के संचालन को पहचान सकें और पढ़-लिख सकें।

यूपी बीसी सखी योजना का कार्य –

  • जन धन सेवाएं
  • वसूली करना
  • BC सखी की प्राथमिक विशेषता बैंक खाते से घर-घर जाकर जमा और निकासी प्राप्त करना है।
  • स्वयं सहायता समूहों के योगदानकर्ताओं को फल प्रदान करना।

उत्तर प्रदेश बैंकिंग सखी योजना से कुछ महत्वपूर्ण बिंदु –

  • इस योजना का लक्ष्य ग्रामीण महिलाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करना है।
  • बीसी सखी योजना के तहत 48 हजार महिलाओं को रोजगार मिलता है।
  • वर्चुअल डिवाइस खरीदने के लिए उम्मीदवार महिला को 50 हजार दिए जा सकते हैं।
  • यूपी सरकार की मदद से तय की गई इन महिलाओं को छह महीने के लिए महीने के हिसाब से 4,000 रुपये की राशि दी जाएगी।
  • महिलाएं बिना किसी परेशानी के अपनी जरूरतों को पूरा कर सकें।
  • उन महिलाओं का कर्तव्य है कि वे अपने क्षेत्र के गांवों में जाकर लोगों को जागरूक करें।
  • एक बैंकिंग कॉरेस्पोंडेंट को एक साथ रखने के लिए लगभग 74 हजार रुपये का शुल्क लगेगा।
  • साथ ही छह माह की प्रोत्साहन राशि का भी प्रावधान किया गया है ताकि आर्थिक तंगी के कारण महिलाएं अब इस कार्य को न छोड़ें।
  • बैंक प्रत्येक लेनदेन पर नियुक्त महिलाओं को शुल्क भी दे सकता है।
  • अब सखी योजना से जुड़ी महिलाओं को वेतन से अतिरिक्त पैसा मिलता है.
  • महिलाओं को इस योजना का लाभ मिलता है, साथ ही उन लोगों को भी जो यात्रा करने में सक्षम नहीं हैं
close button