UP Jobs: संविदा कर्मियों की हो जाएगी पक्की नौकरी, जानें पूरी जानकारी

UP Jobs योगी सरकार का बड़ा फैसला, संविदा कर्मियों की हो जाएगी पक्की नौकरी: यूपी की योगी सरकार 2001 से पूर्व के नियमों से छूटे संविदा कर्मचारियों को स्थायी करने जा रही है (make contract employees permanent) लिहाजा निदेशालय ने निकायों से प्रस्ताव मांगा है। निकायों को पद सृजित करने के निर्देश दिए गए हैं यदि प्रस्ताव पारित हो जाता है तो छूटे हुए संविदा कर्मचारियों को स्थायी किया जाना चाहिए। शेष कर्मचारियों के समायोजन की भी व्यवस्था की जानी चाहिए सूत्रों की माने तो यूपी विधानसभा चुनाव UP assembly elections 2022 से पहले संविदा कर्मचारियों को स्थाई करने की कार्रवाई की जाएगी

आपको बता दें कि राज्य सरकार ने सरकारी विभागों में 31 दिसंबर 2001 तक दैनिक वेतन भोगियों, कार्य प्रभार और अनुबंध पर काम करने वालों को विनियमित किया है इसके बाद भी कई कर्मचारी रह गए। इसको लेकर विभिन्न न्यायालयों में मामले चल रहे हैं स्थानीय निकाय निदेशालय चाहता है कि ऐसे कर्मचारियों को अतिरिक्त पद सृजित कर स्थायी किया जाए, ताकि अदालतों में चल रहे मुकदमों को समाप्त किया जा सके।

इस संबंध में स्थानीय निकाय के संयुक्त निदेशक गंगा राम गुप्ता ने निकायों को निर्देश दिए हैं. जिन पदों पर नियमितीकरण किया जाना है, उनका प्रस्ताव कार्मिक विभाग के नियम एवं वेतन आयोग के आदेश के आधार पर उपलब्ध कराया जायेगा।

प्रस्ताव उपलब्ध कराने से पूर्व अधिसंख्य पदों के सृजन के प्रस्ताव को बोर्ड द्वारा पारित कराना आवश्यक होगा। निकायों को बताया गया है कि इसी के आधार पर प्रस्ताव उपलब्ध कराकर पदों का सृजन किया जाएगा और शेष ऐसे कर्मियों को समायोजित किया जाएगा स्थानीय निकाय निदेशालय चाहता है कि पात्रता की श्रेणी में आने वालों का नियमन अनिवार्य रूप से हो

भारत सरकार की योजनाओं को जानने के लिए sarkariiyojana.in को अभी बुकमार्क करें