Notifications
×
Subscribe
Unsubscribe

Doodh Ganga Yojana : किसानों को डेयरी फार्मिंग बिजनेस के लिए मिलेंगे 24 लाख रुपए

Doodh Ganga Yojana : देश में दूध उत्पादन बढ़ाने को लेकर सरकार की तरफ से कई तरह की योजनाएं चलाई जा रही है। पशुधन को समृद्ध बनाने को लेकर सरकार की तरफ से विभिन्न योजनाओं के माध्यम से किसानों को लाभ प्रदान किया जाता है। इस बीच हिमाचल प्रदेश की सरकार ने राज्य में दूध उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए दूध गंगा योजना (Doodh Ganga Yojana) शुरू की गई है।

दूध गंगा योजना (Doodh Ganga Yojana) के तहत किसानों को दुधारू पशु पालने से लेकर इसके बड़े स्तर पर बिजनेस करने का सहयोग प्रदान किया जाएगा। इस योजना के तहत किसानों को अधिकतम 24 लाख रुपये तक का ऋण प्रदान किया जाएगा। जिस पर किसानों को सब्सिडी का लाभ दिया जाएगा। इस तरह राज्य के किसान इस योजना का लाभ लेकर दूध उत्पादन बढ़ाने के लिए साथ ही इससे अच्छी कमाई कर सकते हैं।

Doodh Ganga Yojana क्या है ?

राज्य में दूध उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए हिमाचल प्रदेश की सरकार ने दूध गंगा योजना की शुरुआत की है। इस योजना के तहत राज्य सरकार की ओर से सब्सिडी का लाभ राज्य के किसानों को प्रदान किया जाएगा। यह सब्सिडी अच्छी नस्ल की गाय व भैंस खरीदने के लिए दी जाती है। यह योजना कई वर्षों से चल रही है। इस योजना को भारत सरकार के पशुपालन विभाग की ओर से डेयरी उद्यम पूंजी योजना के रूप में नाबार्ड के माध्यम से शुरू किया गया था।

Doodh Ganga Yojana के उद्देश्य

  1. स्वच्छ दूध उत्पादन के लिए आधुनिक डेयरी फार्म तैयार करना है।
  2. उत्तम नस्ल के दुधारू पशुओं को तैयार करने के लिए तथा बछड़ी पालन को प्रोत्साहन देना।
  3. असंगठित क्षेत्र में बदलाव लाकर दूध के शुरूआती उत्पादों को गांव स्तर पर तैयार करवाना।
  4. दूध उत्पादन के तरीकों को व्यावसायिक स्तर पर लाना।
  5. स्वरोजगार उत्पन्न करना तथा असंगठित डेरी क्षेत्र को सुविधा देना।

Doodh Ganga Yojana में मिलती है सब्सिडी

दूध गंगा योजना (Doodh Ganga Yojana) के तहत SC, ST वर्ग के किसानों को 33 फीसद व सामान्य वर्ग के किसानों को 25 फीसदी सब्सिडी का लाभ दिया जाता है। राज्य सरकार की इस योजना के चलते सब्सिडी का भी प्रावधान किया गया है। केंद्र के साथ राज्य सरकार की तरफ से किसानों को देशी गाय व भैंस खरीदने पर 20 % और जर्सी गाय खरीदने पर 10 % की सहायता दी जाती है।

Home Page Click Here
close button